[HINDI] Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Summary And Notes In Hindi

Hey Students, I Am Ayan Ansari From CrackCbse – The Learning Platform For Cbse Students, Today I Am Going To Provide You CBSE Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Summary Which Will Help You To Building The Concept In Class 10 English Chapter 3. With This CBSE Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Summary And Notes You Can Score More Marks In Class Test, Periodic Test And Also In Cbse Board Exam. From Here You Can Also Download The Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Summary And Notes Pdf Totally Free, So Without Wasting Time Let’s Start Understanding Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Summary.

Contents

Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes Of Democracy Notes for hindi medium

Overview:

अब जबकि हम लोकतंत्र की अपनी यात्रा के आखिरी पड़ाव पर हैं तब विशिष्ट बातों की चर्चा से आगे जाने और कुछ सामान्य किस्म के सवाल पूछने का वक्त गया है जैसे यही कि लोकतंत्र क्या करता है अथवा यह कि लोकतंत्र से हम अमूमन किन परिणामों की उम्मीद करते हैं साथ ही यह सवाल भी पूछा जा सकता है कि क्या वास्तविक जीवन में लोकतंत्र इन उम्मीदों को पूरा करता है|

लोकतंत्र के परिणामों का मूल्यांकन कैसे करें हम इन्हीं बातों से अध्याय की शुरुआत करेंगे इस विषय पर विचार करने के बारे में कुछ बातों को स्पष्ट कर लेने के बाद हम इस बात पर गौर करेंगे कि विभिन्न मामलों में लोकतंत्र से कैसे परिणाम वांछित हैं और वास्तविक धरातल पर क्या परिणाम आते हैं इसके लिए हम लोकतंत्र के विभिन्न पहलुओं मसलन शासन के स्वरूप आर्थिक कल्याण समानता सामाजिक अंतर और टकराव तथा आखिर में आजादी और स्वाभिमान जैसे मामलों पर गौर करेंगे इस तलाश में हमें सकारात्मक परिणाम मिलेंगे लेकिन इन परिणामों के साथ कई सवाल और आशंकाएं भी लगी हुई है यह सवाल और आशंकाएं हमें लोकतंत्र के सामने खड़ी चुनौतियों पर सोचने के लिए विवश करतीआती हैं जिस पर हम आगे अध्ययन और विचार करेंगे|

लोकतंत्र के परिणामों का मूल्यांकन कैसे करें


लोकतंत्र को सबसे बेहतर बताया गया था क्योंकि यह व्यक्तियों में समानता को बढ़ावा देता है|व्यक्ति की गरिमा को बढ़ाता है इससे फैसलों में बेहतरी आती है टकराव को टालने संभालने का तरीका देता है इसमें गलतियों को सुधारने की गुंजाइश होती है


क्या यह उम्मीद है लोकतांत्रिक शासन व्यवस्थाओं से पूरी होती हैं अपने आसपास के लोगों से बात करें तो पाएंगे कि अधिकांश लोग अन्य किसी भी वैकल्पिक शासन व्यवस्था की तुलना में लोकतंत्र को पसंद करते हैं लेकिन लोकतांत्रिक शासन के कामकाज से संतुष्ट होने वालों की संख्या इतनी बड़ी नहीं होती सैद्धांतिक रूप में तो लोकतंत्र को अच्छा माना जाता है पर व्यवहार में इसे इतना अच्छा नहीं माना जाता हम लोकतंत्र को हर मर्ज की दवा मान लेते हैंऔर जब हमारी कुछ उम्मीदें पूरी नहीं होती हैं तो हम लोकतंत्र की अवधारणा को ही दोष देने लगते हैं

  • प्रत्येक लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था उत्तरदाई जिम्मेदार और वैद्य शासन होती है
  • लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था में आर्थिक समृद्धि और विकास होता है
  • लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था में असमानता और गरीबी में कमी आती है
  • लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था सामाजिक व्यवस्थाओं में सामंजस्य स्थापित करती हैलोकतांत्रिक शासन व्यवस्था नागरिकों की गरिमा और आजादी को बढ़ावा देती है
लोकतंत्र की खासियत है कि इसकी जांच परख और परीक्षा कभी खत्म नहीं होती वह एक जांच पर खरा उतरे तो अगली जांच आ जाती है शिकायतों का बने रहना भी लोकतंत्र की सफलता की गवाही देता है इससे पता चलता है कि लोग सचेत हो गए हैं और वे सत्ता में बैठे लोगों के कामकाज का आलोचनात्मक मूल्यांकन करने लगे हैं लोकतंत्र के कामकाज से लोगों का असंतोष जताना लोकतंत्र की सफलता को तो बताता ही है साथ ही यह लोगों के प्रजा से नागरिक बनने की गवाही भी देता है आज अधिकांश लोग मानते हैं कि सरकार की चाल ढाल पर उनके वोट से असर पड़ता है और यह उनके अपने हितों को भी प्रभावित करता है

लोकतंत्र से ऐसी सरकार बनती है जो जनता के लिए उत्तरदाई होती है और नागरिकों की उम्मीदों और मांगों पर ध्यान देती है अक्सर ऐसा प्रतीत होता है कि किसी और लोकतांत्रिक सरकार के मुकाबले कोई लोकतांत्रिक सरकार कम कुशल हो किसी भी आ लोकतांत्रिक सरकार में आम सहमति बनाने की जरूरत नहीं पड़ती इसलिए अहम फैसले लेने में देर नहीं लगती है लेकिन लोकतांत्रिक सरकार में आम सहमति बनाने की जरूरत पड़ती है इसलिए अहम फैसले लेने में देर होती है लेकिन हमें यह सोचना होगा कि क्या अलोकतांत्रिक सरकार का फैसला जनता को मंजूर होता है क्या वैसे फैसले वास्तव में लोगों की समस्या का समाधान करते हैं


लोकतांत्रिक सरकार अधिक पारदर्शी होती है जनता के पास यह जानने का अधिकार होता है कि फैसले किन तरीकों से लिए गए या सरकार ने कोई कार्य कैसे किया इसलिए एक लोकतांत्रिक सरकार जनता के लिए उत्तरदाई होती है और जनता का ध्यान रखती है लोकतांत्रिक सरकार को लोगों द्वारा चुना जाता है इसलिए ऐसी सरकार वैद्य होती है इसलिए आज दुनिया के अधिकांश देशों में लोकतांत्रिक सरकारें चल रही हैं

आर्थिक समृद्धि और विकास

यदि आर्थिक समृद्धि की  बात की जाएतो इसमें तानाशाही शासन लोकतंत्र के मामले में आगे दिखता है 1950 से 2000 तक के 50 वर्षों के आंकड़ों का अध्ययन करने से पता चलता है कि तानाशाही शासन व्यवस्था में आर्थिक समृद्धि बेहतर हुई है लेकिन कई लोकतांत्रिक देश हैं जो दुनिया की आर्थिक शक्तियों में गिने जाते हैं इसलिए यह कहा जा सकता है कि सरकार का प्रारूप किसी देश की आर्थिक समृद्धि को निर्धारित करने वाला अकेला कारक नहीं है इसके अन्य कारक भी होते हैं जैसे जनसंख्या वैश्विक स्थिति अन्य देशों से सहयोग आर्थिक प्राथमिकताएं आदि इसलिए हमें आर्थिक समृद्धि के साथ-साथ अन्य सकारात्मक पहलुओं को भी देखना पड़ेगा इस दृष्टिकोण से लोकतंत्र हमेशा तानाशाही से बेहतर होता है

समानता और गरीबी में कमी

आर्थिक समानता पूरी दुनिया में बढ़ रही है भारत की जनसंख्या का एक बड़ा हिस्सा गरीब है गरीबों और अमीरों की आय के बीच एक बहुत बड़ी खाई है लोकतंत्र अधिकांश देशों में आर्थिक असमानता मिटाने में असफल ही रहा है

सामाजिक विविधताओं में सामंजस्य

हरदेश सामाजिक विविधताओं से भरा हुआ है इसलिए विभिन्न वर्गों के बीच टकराव होना स्वाभाविक है लोकतंत्र ऐसे तरीकों का विकास करने में मदद करता है जिनसे समाज के विभिन्न वर्गों के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा हो सके लोकतंत्र में लोग विविधता का सम्मान करना और मतभेदों के समाधान निकालना सीख जाते हैं अधिकतर लोकतांत्रिक देशों में सामाजिक विविधता में तालमेल बना रहता है इसके कुछ अपवाद भी हो सकते हैं जैसे श्रीलंका

नागरिकों की गरिमा और आजादी

लोकतंत्र ने नागरिकों को गरिमा और आजादी प्रदान की है भारत में कई सामाजिक वर्ग हैं जिन्होंने वर्षों तक उत्पीड़न जिला है लेकिन लोकतांत्रिक प्रक्रिया के फल स्वरुप इन वर्गों के लोग भी आज सामाजिक व्यवस्था में ऊपर उठ पाए हैं और अपने हक को प्राप्त किया है|

Also Check : Nelson Mandela:Long Walk to Freedom Notes And Short Summary

महिलाओं की समानता

लोकतंत्र के कारण ही यह संभव हो पाया है कि महिलाएं समान अधिकारों के लिए संघर्ष कर पाई हैं आज अधिकांश लोकतांत्रिक देशों की महिलाओं को समाज में बराबर का दर्जा मिला हुआ है तानाशाह देशों में आज भी महिलाओं को समान अधिकार प्राप्त नहीं है|

जातिगत असमानता

जातिगत असमानता भारत में जड़ जमाए बैठी है लेकिन लोकतंत्र के कारण इसकी संख्या काफी कम हुई है आज पिछड़ी जाति और अनुसूचित जाति के लोग भी हर पेशे में शामिल होने लगे हैं

किस प्रकार हम देखते हैं कि लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था के कई सकारात्मक परिणाम भी रहे हैं अतः अब हम निरपेक्ष तौर पर लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था के परिणामों का मूल्यांकन करने के बाद इस नतीजे पर पहुंचते हैं की लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था ही सबसे अच्छी शासन व्यवस्था होती है|

Also Check : [PART 1] Class 10 English Chapter 3 His First Flight Summary

याद रखने योग्य बातें :-

1.आज विश्व के 100 देश किसी ना किसी तरह की लोकतांत्रिक व्यवस्था चलाने का दावा करते हैं। इनका औपचारिक संविधान है। इनके यहां चुनाव होते हैं और राजनीतिक दल भी हैं। साथ ही वे अपने नागरिकों को कुछ बुनियादी अधिकारों की गारंटी भी देते है।

2.लोकतंत्र में इस बात की पक्की व्यवस्था होती है कि फैसले कुछ कायदे कानूनों के अनुसार हों।

3.कोई नागरिक यह जानना चाहे कि फैसले लेने में नियमों का पालन हुआ है या नहीं तो वह इसका पता लगा सकता है। उसे न सिर्फ यह जानने का अधिकार है बल्कि उसके पास इसके साधन भी उपलब्ध हैं, इसे पारदर्शिता कहते हैं।

4.लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था निश्चित रूप से अन्य शासनों से बेहतर है। यह वैध शासन व्यवस्था है। लोकतांत्रिक शासन व्यवस्था लोगों की अपनी शासन व्यवस्था है। इसी कारण सम्पूर्ण विश्व में लोकतंत्र के विचार के प्रति जबरदस्त समर्थन का भाव है|

5.लोकतांत्रिक व्यवस्था राजनीतिक समानता पर आधारित होती है। प्रतिनिधियों के चुनाव में हर व्यक्ति का स्तर बराबर होता है|

6.तानाशाही का समर्थन करने वाली राजनैतिक विचारधारा को निरंकुशतावाद कहते हैं।

7.लिंग भेद, जातिभेद और साम्प्रदायिक प्रवृत्ति सामाजिक असमानता के रूप हैं।

8.कानून के शासन से आशय है कि एक देश के संविधान के प्रति अटूट निष्ठा के साथ शासन करना।

Last Lines

I Hope Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes of Democracy Summary Will Help You Alot, And If Read It Carefully Then I Guarantee That After Reading This You Can Crack Cbse Exam. If You Have Any Query Or Doubt Regarding Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes of Democracy Summary Then Feel Free To Write Down In Comment Section And You Can Also Contact Us We Will Try Our Best To Solve It This Class 10 Civics Chapter 7 Outcomes of Democracy Summary And Notes Have Been Design By Crack Cbse Experts, If You Find Any Error Then Make Us Aware About By Writing Down In Comment

Make Sure to Follow Us On Instagram – Crack CBSE


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here